अंबाला को सिर्फ प्रकृति ने नहीं प्रशासनिक और प्लानिंग आपदा ने भी डुबाया-चित्रा सरवारा

97
SHARE

अंबाला।

हरियाणा में आई बाढ़ पर आम आदमी पार्टी की प्रदेश उपाध्यक्ष चित्रा सरवारा ने सरकार को घेरा है। सरकार पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं। साथ ही बाढ़ पीड़ित लोगों को मुआवजा देने की मांग भी उठाई है। चित्रा ने कहा कि अभूतपूर्व बाढ़ और उसके चौतरफा विनाश को देखते हुए प्रदेश सरकार हरियाणा के प्रभावित इलाकों को बाढ़-ग्रस्त घोषित करे और हर मुमकिन राहत और मदद मुहैया कराई जाए।

प्रदेश सरकार सभी आर्थिक व प्रशासनिक संस्थाओं को आपातकालीन प्रावधान के तहत राहत और पुनर्वास के लिए मदद करने के निर्देश दें। चित्रा ने सरकार पर कटाक्ष करते हुए कहा कि बड़े दुख की बात है कि प्रदेश के मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री से हाल ही में मुलाकात की, लेकिन न कोई राहत का पैकेज लाए, न कोई खास घोषणा की। इलाकों में भी मात्र हवाई दौरा कर उन्होंने साफ कर दिया कि आज भाजपा सरकार हवा में है, जमीन पर नहीं। चित्रा ने गृहमंत्री के बयान पर भी पलटवार किया और कहा कि अंबाला कैंट में 48 सालों में निकासी पर कोई ठोस काम नहीं हुआ।

प्राकृतिक आपदा के आगे किसी का बस नहीं, लेकिन अंबाला को प्रशासनिक और प्लानिंग आपदा ने भी बराबर डुबोया है। अंबाला की सभी पुरानी डिग्गयां बंद कर दी गई, जिससे इलाके की स्वाभाविक निकासी खत्म हो गई। नए नाले बनाए गए, लेकिन जमीन की ढलान को नजर अंदाज करते हुए नालों में ऊंचे पाइप डाले कर पुलिया बनाया, जिसने बांध बनाकर हाउसिंग बोर्ड जैसे रिहायशी इलाकों को डूबा दिया।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal