भिवानी निवासी दीपक उर्फ टीनू पंजाब पुलिस की कस्डटी से फरार, मौसी का लडक़ा भिवानी से काबू

2363
SHARE

भिवानी हलचल, पुलिस अधीक्षक भिवानी अजीत सिंह भा0पु0से0 ने सीआईए स्टाफ भिवानी को जिले में गिरोह बनाकर संगठित अपराध करने वाले आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए विशेष निर्देश दिए हुए हैं। जो इन्हें निर्देशों के तहत दिनांक एक अक्टूबर 2022 को सीआईए स्टाफ प्रथम भिवानी के इंचार्ज निरीक्षक योगेश कुमार के नेतृत्व वाली टीम के इंचार्ज सहायक उपनिरीक्षक प्रीतम सिंह त्रिवेणी जोहड़ बैंक कॉलोनी मौजूद थे। जो पुलिस टीम को विश्वसनीय सूत्रों से सूचना प्राप्त हुई कि एक सफेद रंग की चोरी की आपाचे मोटरसाइकिल पर तीन युवक सवार है जो गांव कोंट की तरफ से मिनी बायपास भिवानी की तरफ आएंगे। जो आरोपी अपराधिक प्रवृत्ति के युवक हैं वह अवैध हथियार लिए हुए हैं। पुलिस टीम के द्वारा सूचना की महत्वता को देखते हुए त्रिवेणी जोहड़ पर नाकाबंदी करके सूचना के आधार पर एक मोटरसाइकिल पर सवार तीन युवकों को रुकवाया गया। पुलिस टीम के द्वारा मोटरसाइकिल पर सवार युवकों से मोटरसाइकिल से संबंधित दस्तावेज पेश करने के लिए कहा गया तो मोटरसाइकिल पर सवार युवकों ने बताया कि यह मोटरसाइकिल उन्होंने फरवरी महीने में हनुमान गेट भिवानी से चोरी की थी। आरोपियों की पहचान आशीष पुत्र तुलसीराम निवासी अंबेडकर कॉलोनी, आकाश पुत्र शशि निवासी शांति नगर, दादरी गेट, आकाश पुत्र अशोक निवासी हनुमान गेट, पीपली वाली जोहड़ी भिवानी के रूप में हुई है। पुलिस टीम ने आरोपी आशीष पुत्र तुलसीराम निवासी अंबेडकर कॉलोनी, भिवानी से एक देसी पिस्तौल व एक कारतूस बरामद किया है व आकाश पुत्र शशि निवासी शांति नगर, दादरी गेट, भिवानी से दो कारतूस बरामद किए और आकाश पुत्र अशोक कुमार निवासी हनुमान गेट भिवानी से चोरी की गई एक अपाचे मोटरसाइकिल बरामद की गई है।

वही दूसरी तरफ भिवानी निवासी दीपक उर्फ टीनू पंजाब पुलिस की कस्डटी से फरार गया। पंजाब पुलिस की क्राइम इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (CIA) दीपक को कपूरथला से मानसा लेकर जा रही थी। इस दौरान रात 11 बजे दीपक फरार हो गया। वह मूसेवाला मर्डर के एक और आरोपी लॉरेंस का गुर्गा है।

कस्टडी से दीपक की फरारी के बाद पुलिस ने राजस्थान और हरियाणा बॉर्डर सील कर दिया है। गैंगस्टर लॉरेंस ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट की है। इसमें पुलिस को धमकी दी कि वो कोई नाजायज कदम न उठाए।

जानकारी के मुताबिक, इस पूरी घटना में पुलिस की लापरवाही सामने आई है। CIA के अफसर अपनी प्राइवेट गाड़ी में टीनू को कपूरथला से मानसा ले जा रहे थे। इस दौरान उन्होंने निशानदेही के आधार पर एक जगह छापा मारने का फैसला लिया। मानसा और कपूरथला के बीच करीब 200 किमी. का फासला है और पुलिस अफसर ने इतने लंबे सफर में दीपक को हथकड़ी नहीं लगाई थी।

भिवानी पुलिस टीम के द्वारा आरोपियों से गहनता से पूछताछ करने पर आरोपी आशीष ने बतलाया कि यह अवैध पिस्तौल उसने अपने मौसी के लडक़े लॉरेंस बिश्नोई गैंग के सदस्य गैंगस्टर दीपक उर्फ टीनू हरियाणा से मंगवाई थी। जिसको टीनू हरियाणा के कहने पर एक व्यक्ति आरोपी आशीष को देकर गया था।
आरोपी आशीष अवैध हथियार मंगा कर जिला भिवानी में पिस्टल पॉइंट पर वाहन चोरी, रुपए व मोबाइल की लूट की वारदातों को अंजाम दिया करता था। आरोपी ने जिला भिवानी में निम्नलिखित पिस्टल पॉइंट पर वारदात करना कबूल किया है आरोपियों ने फरवरी महीने में सुबह करीब 4:00 बजे एक मोटरसाइकिल रोहतक गेट के पास से चोरी की थी। मोटरसाइकिल चोरी करने के बाद पुराना बस अड्डा के पास करीब 5:00 बजे एक रेहड़ी चालक से पिस्टल पॉइंट पर  4,100/- रुपए व उसका फोन छीन लिया था। आरोपियों के द्वारा फरवरी महीने में हनुमान गेट, शुकलान ढाणी, भिवानी की गली से रात के समय अपाचे मोटरसाइकिल चोरी की थी। आरोपियों ने मार्च 2022 में चोरी की गई मोटरसाइकिल अपाचे पर सवार होकर बावड़ी गेट, भिवानी के पास से तीन रेहडी चालकों से मारपीट करके रूपए वह चांदी की चेन छीनकर ले गए थे। आरोपियों के द्वारा मार्च 2022 में चोरी की गई अपाचे मोटरसाइकिल पर सवार होकर बड़ चौक, भिवानी के पास एक सब्जी की रेहड़ी चालक से सुबह बजे एक फोन व 4,000/- रुपए छीनकर ले गए थे।
आरोपियों के द्वारा सितंबर 2022 को रेलवे स्टेशन भिवानी की पार्किंग के पास से एक स्प्लेंडर मोटरसाइकिल चोरी करके ले गए थे। आज जांच इकाई के द्वारा उपरोक्त तीनों आरोपियों को पेश माननीय न्यायालय में किया गया जहां माननीय न्यायालय ने आरोपियों को जिला कारागार भेजने का आदेश दिए हैं।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal