भिवानी: रोबोट मशीन से होगी शहर के सीवरो की सफाई

126
SHARE

भिवानी। 

जनस्वास्थ्य विभाग ने अब बकेट मशीन व फट्टियाें की बजाए राेबाेट मशीन से सीवर लाइन की सफाई करने का कार्य शुरू किया है। शहर में जहां भी सीवर लाइन ब्लॉकेज की सूचना मिलेगी विभाग के कर्मचारी वहां राेबाेट मशीन लेकर पहुंचेंगे और मशीन से सफाई करेंगे।

सीवर लाइन में पीवीसी प्लास्टिक लेयर डैमेज न हाे इसलिए विभाग अब शहर में सीवर लाइन की सफाई पहली बार राेबाेट मशीन से करवा रहा है। इसका कार्य विभाग ने शनिवार से शुरू कर दिया है। घंटाघर क्षेत्र में आधा दर्जन सीवर मैनहाेल की राेबाेट मशीन से सफाई की गई है। राेबाेट मशीन 30 फुट गहराई तक सफाई कर सकती है।

शहर में अनेक स्थानाें पर बकेट मशीन व फट्टी से सफाई करने के चलते सीवर लाइन की प्लास्टिक लेयर डैमेज हाे चुकी है। 20 दिन पहले दिल्ली से आए एजेंसी के कर्मचारी व अधिकारी डैमेज प्वाइंट काे ठीक करने का कार्य कर रहे हैं, लेकिन अभी तक एक प्वाइंट काे ही ठीक कर पाए है। सीवर लाइन में प्लास्टिक की लेयर लगी हुई है और जिसकी 50 साल की गारंटी है।

इसलिए संबंधित एजेंसी अधिकारियाें ने 15 दिन पहले ही बताया था कि बकेट मशीन व फट्टी से सीवर लाइन की प्लास्टिक लेयर काे डैमेज किया गया है। जबकि इस लाइन में बकेट मशीन व फट्टी का उपयोग नहीं किया जा सकता है। इसलिए विभाग अब राेबाेट मशीन से सफाई करवा रहा है। दिनाेद गेट पर ब्लाॅक सीवर लाइन एक सप्ताह बाद भी नहीं खुल पाई है। यहां अज्ञात पेयजल लाइन का पानी सीवर लाइन में जा रहा है। इसके कारण एजेंसी कर्मचारी कार्य नहीं कर पा रहे है। विभाग ने पेयजल लाइन काे ब्लाॅक करने के लिए एक सप्ताह पहले जेसीबी से सड़क काे उखाड़कर 22 फुट गहरी क्षतिग्रस्त पेयजल लाइन की तलाश कर उसे ब्लाॅक करने का कार्य किया जा रहा है।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal