मुख्यमंत्री ने जिला को दी 3145 लाख रूपए की विकास परियोजनाओं की सौगात: कृषि मंत्री जेपी दलाल

120
SHARE
भिवानी।
मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने शुक्रवार को गुरूग्राम में आयोजित राज्य स्तरीय कार्यक्रम से प्रदेशभर में करीब दो हजार करोड़ रूपए की लागत से बनने वाली करीब 178 परियोजनाओं का शिलान्यास व उद्घाटन किया। प्रदेशभर में आयोजित जिला स्तरीय कार्यक्रमों को विडियो कॉन्फ्रेस के माध्यम से संबोधित किया। भिवानी के पंचायत भवन में आयोजित जिला स्तरीय कार्यक्रम में प्रदेश के कृषि एवं किसान कल्याण, पशुपालन एवं डेयरिंग, मत्स्य व कानून एवं विधायी मंत्री जेपी दलाल ने बतौर मुख्य अतिथि भिवानी की 3145.25 लाख रूपए की लागत से बनने वाली चार विकास परियोजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास किया। इस मौके पर पूर्व मंत्री एवं भिवानी के विधायक घनश्याम सर्राफ, उपायुक्त नरेश नरवाल, युवा आयोग के चेयरमैन मुकेश गौड, भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष ठा. विक्रम सिंह, जिलाध्यक्ष शंकर धूपड़ आदि मौजूद रहे।
कृषि मंत्री जेपी दलाल ने कहा कि परिवार पहचान पत्र हमारी सरकार की महत्वकांक्षी व अनूठी योजना है। परिवार पहचान पत्र को आधार कार्ड से लिंक कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि पीपीपी से सरकार की अनेक कल्याणाकारी योजनाओं का घर बैठे ही फायदा दिया जा रहा है जैसे परिवार का कोई सदस्य 18 वर्ष का होगा तो उसका वोटरकार्ड बनकर घर पहुंच दिया जाएगा और इसी तरह से वृद्घाजनों की पेशन भी बनेगी। उन्होंने कहा कि पीपीपी से सरकार की लगभग चार सौ सेअधिक कल्याणकारी योजनाएं और सेवाएं जुड़ी हुई हैं।
कृषि मंत्री जेपी दलाल ने कहा कि हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल की अगुवाई में राज्य विकास की दृष्टि से लगातार आगे बढ़ रहा है। पिछले आठ वर्षों में किए गए विकास कार्यों के फलस्वरूप हरियाणा की गिनती आज देश के विकसित राज्यों में होने लगी है। उन्होंने कहा कि प्रदेश जीरो टोलरेंस की नीति पर चलकर पोर्टल के माध्यम से पूर्ण पारदर्शिता के साथ आमजन को बिजली, पानी, स्वास्थ्य, शिक्षा, परिवहन, सडक़, ग्रामीण विकास सहित मूलभूत सुविधाएं मुहैया करवाई जा रही हैं। केंद्र व राज्य सरकार व्यवस्था परिवर्तन के साथ अंत्योदय की भावना से कार्य कर रही है। मुख्यमंत्री के नेतृत्व में राज्य सरकार ईज ऑफ डुईंग बिजनेस के बाद प्रदेश के हैप्पीनेस इंडेक्स को बढ़ाने के लक्ष्य के साथ ईज ऑफ लिविंग की दिशा में निरंतर काम कर रही है। हर वर्ग को शिक्षा, स्वास्थ्य, स्वच्छ जल, सडक़, स्वावलंबन आदि सुनिश्चित करने के लिए नई-नई पहल की है। आने वाला हरियाणा समृद्ध हरियाणा बने इसके लिए मुख्यमंत्री विकास के साथ-साथ शांति, सद्भावना और आपसी भाईचारे को और भी मजबूत करने के लिए अथक प्रयास कर रहे हैं।
कृषि मंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा लोगों को मूल-भूत सुविधाएं प्रदान कर बिना भेद-भाव के विकास कार्य करवाएं जा रहे है। सरकार ने किसान, गरीब व मजदूर आदि के हित में अनेक ऐतिहासिक फैसलें लिए है जिससे सभी वर्गों को फायदा हुआ है। उन्होंने कहा कि सरकार अंत्योदय की भावना से कार्य कर रही है। सरकार का प्रयास है कि पंक्ति में खड़े अंतिम व्यक्ति तक सरकार की योजनाओं का लाभ मिले। उन्होंने कहा कि अधिकारी सरकार की सभी कल्याणकारी योजनाओं का क्रियान्वयन सही ढंग से करें ताकि जरूरतमंद परिवारों व व्यक्तियों को फायदा मिल सके। सरकार अंत्योदय की भावना से कार्य करके हर वर्ग के लोगों के लिए योजनाएं लागू कर रही है। उन्होंने कहा कि वृद्घावस्था पैंशन आदि अनेक योजनाओं के लिए लोगों को कार्यालयों के चक्कर नहीं काटने पड़ रहे हैं बल्कि समयबद्घ व नियमानुसार उन्हें इन योजनाओं को फायदा घर बैठे ही मिल रहा है। सरकार ने सेवा का अधिकार नियम बनाकर निर्धारित समयावधी में सेवाओं का लाभ दिया है। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा विभिन्न योजनाओं को ऑनलाईन करके तथा डीबीटी के माध्यम से छात्रवृति, सब्सिडी आदि सीधे लाभार्थी के खाते में डालकर इन सभी योजनाओं में पारदर्शिता लाई है।
कृषिमंत्री ने कहा कि किसानों की आमदनी बढ़ाने के लिए परम्परागत फसलों की बजाय फसल विविधिकरण पर जोर दिया जा रहा है। किसानों को फल-फूल, बागवानी, सब्जी, उत्पादन, नेट हाउस, पोली हाउस, डै्रगेन फू्रट, पशुपालन व मछली पालन आदि अपनाने पर प्रोत्साहन स्वरूप अनुदान दिया जा रहा है। कृषि के बजट में भी बढ़ोतरी की गई है। बागवानी के बजट को कई गुणा बढ़ाया गया है ताकि किसानों की आय बढ़ाई जा सकें।
उन्होंने कहा कि प्रदेश में सडक़ों का जाल बिछाया जा रहा है। नए-नए बाईपास, आरओबी, राष्टï्रीय राज्य मार्गों का निर्माण करवाकर आधारभूत ढ़ाचा तैयार किया गया है, जिसे देश में कनक्वीटी बढ़ी हैं। इसीलिए हरियाणा निवेशकों की पहली पसंद बन गया हैं।
इस अवसर पर जिला परिषद के सीईओ मनोज दलाल ने कृषि मंत्री जेपी दलाल सहित अन्य अतिथियों का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि जिला प्रशासन उपायुक्त नरेश नरवाल के मार्गदर्शन में सरकार की कल्याणकारी योजनाओं का सही ढ़ंग से क्रियान्वयन करेगा, जिससे जरूरतमंद व्यक्ति को लाभ मिल सकें। उन्होंने शिलान्यास व उद्घाटन कार्यक्रम में जिला भिवानी को मिली 3145.25 लाख रूपए के विकास कार्यों की सौगात की विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री ने वीसी के माध्यम से 2274.7 लाख रूपए की लागत से नवनिर्मित भिवानी-हांसी रोड से तोशाम बाइपास रोड पर रेलवे ओवर ब्रिज (आरओबी )का उद्घाटन किया। उन्होंने बताया कि कृषि मंत्री जेपी दलाल ने शिक्षा विभाग की तीन परियोजनाओं की आधारशीला रखी। इनमें समग्र शिक्षा के तहत 409.6 लाख रूपए की लागत से बहल के राजकीय माध्यमिक सीनियर सैकेंडरी स्कूल (जीएमएसएसएस) में अतिरिक्त 20 क्लास रूम, एचएम रूम, चार लैब, लाइब्रेरी, चारदिवारी, 312.46 लाख रूपए की लागात से जीएसएस स्कूल बापौड़ा में 10 अतिरिक्त क्लासरूम, चार लैब, लाइब्रेरी, साइकिल स्टैंड का निर्माण तथा 148.49 लाख रूपए की लागात से तैयार होने वाले कैरू के राजकीय माध्यमिक सीनियर सैकेंडरी स्कूल (जीएमएसएसएस) में अतिरिक्त नौ क्लासरूम, लैब, एचएम कक्ष, पानी की टंकी, चारदीवारी के निर्माण का आधारशिला शामिल हैं।
अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal