सही ढंग से कूड़े का उठान नहीं करने पर ठेकेदारों की फर्म होगी ब्लैकलिस्ट: एडीसी

162
SHARE
अतिरिक्त उपायुक्त राहुल नरवाल ने शहर में सफाई व्यवस्था को दुरूस्त रखने को लेकर दिए सख्त निर्देश
भिवानी, 06 जुलाई। अतिरिक्त उपायुक्त एवं डीएमसी राहुल नरवाल ने कहा कि शहर में कचरे का उठान नहीं करने वाली ठेकेदारों की फर्म को ब्लैकलिस्ट किया जाएगा। उन्होंने कहा कि शहर को गंदगी मुक्त बनाने के लिए नगर परिषद द्वारा डोर-टू डोर कचरा कलेक्शन के लिए योजना बनाई है, जिस पर कार्य किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि शहर में कचरे के डंपिंग प्वाईंट का समाप्त किया जाएगा ताकि उनसे गंदगी का आलम न बने। उन्होंंने नगर परिषद के सफाई निरीक्षक को भी शहर में सफाई व्यवस्था दुरूस्त रखने के निर्देश दिए।
अतिरिक्त उपायुक्त श्री नरवाल लघु सचिवालय स्थित अपने कार्यालय में सफाई निरीक्षक व डोर-डोर कूड़ा कलेक्शन करने वाले ठेकेदारों को जरूरी निर्देश दे रहे थे। उन्होंने बताया कि सफाई व्यवस्था के लिए शहर के 31 वार्डों को दो भागों में विभाजित किया गया है। उन्होंने बताया कि वार्ड नंबर 6 से 16 और 22 नंबर से 29 वार्ड तक सफाई व्यवस्था का काम नगर परिषद द्वारा किया जा रहा है। इसी प्रकार से शेष 12 वार्डों में सफाई का कार्य श्री श्याम एसोसिएट को ठेके पर दिया गया है। नगर परिषद और ठेकेदार द्वारा घर-घर जाकर कचरे का उठान किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि नगर परिषद सफाई कर्मचारियों के अधीन लिए गए 19 वार्डों में 13 सफाई दरोगा नियमित रूप से निरीक्षण करेंगे। सफाई के प्रतिदिन के कार्य को नगर परिषद द्वारा बनाए गए वाटसएप ग्रुप पर डाला जाएगा।
इन नंबरों पर कर सकतें हैं सफाई से संबंधित शिकायत
अतिरिक्त उपायुक्त श्री नरवाल ने बताया कि सफाई व्यवस्था से संबंधित शिकायत करने के लिए नगर परिषद द्वारा मोबाईल नंबर जारी किए हैं। उन्होंने बताया कि वार्ड नंबर एक से 15 तक पुरूषोत्तम के मोबाईल नंबर 9992875424 पर और वार्ड नंबर 16 से 31 के लिए विकास के मोबाईल नंबर 7357720220 पर शिकायत कर सकते हैं। इन नंबरों पर सप्ताह के सातों दिन शिकायत दर्ज करवाई जा सकती है।
नगर परिषद के कर्मचारी दिन में तीन बार करेंगे निरीक्षण
उन्होंने बताया कि सफाई व्यवस्था दुरूस्त रखने के लिए नगर परिषद के कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है। नगर परिषद द्वारा दिन में तीन बार उनकी जगहों पर सफाई व्यवस्था का निरीक्षण किया जाएगा। उन्होंने बताया कि सफाई व्यवस्था के लिए नगर परिषद द्वारा शहर की विभिन्न आरडबलूए सदस्यों के साथ बैठक आयोजित की जा रही हैं और उनकी भी मदद ली जा रही है।
आमजन करे नगर परिषद प्रशासन का सहयोग
उन्होंने बताया कि नगर परिषद द्वारा लोगों को गंदगी नहीं फैलाने के लिए जागरूक किया जा रहा है। ऑटो टिपर के माध्यम से व सफाई कर्मचारियों द्वारा भी कचरा उठाने लेने के दौरान लोगों का गीला-सूखा कचरा अलग-अलग करने व गंदगी नहीं फैलाने के लिए जागरूक किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि शहर को स्वच्छ बनाने में आमजन का सहयोग बहुत जरूरी है। उन्होंने बताया कि शहर में कचरा डंपिंग की जगह पर राहगीरों के बैठने के लिए सीमेंट की कुर्सियां आदि डलवाई जाएंगी।
इस दौरान अतिरिक्त उपायुक्त ने सफाई टेंडर से संबंधित ठेेकेदारों को सख्त निर्देश देते हुए कहा कि सफाई व्यवस्था सही नहीं होने पर उनकी फर्म को ब्लेकलिस्ट में डाला जाएगा और वे भिवानी ही नहीं बल्कि प्रदेश में कहीं भी टेंडर के लिए अप्लाई नहीं कर सकेंगे। एडीसी ने सफाई निरीक्षक को निर्देश दिए कि वे सफाई ठेकेदारों की सात-सात दिन की कार्य रिपोर्ट तैयार करें।
बैठक में सफाई निरीक्षक विकास और संजय कुमार, स्वच्छ भारत मिशन से सिटी टीम लीडर सन्नी शर्मा, श्री श्याम एसोसिएट से ठेकेदार सत्यवान और लवकुश सोसायटी से शीशपाल भी मौजूद रहे।