राज्य स्तरीय पशु प्रदर्शनी के लिए उपायुक्त ने सौंपी अधिकारियों को अलग-अलग जिम्मेदारी

51
SHARE

स्थानीय लघु सचिवालय डीआरडीए सभागार में आयोजित हुई विभिन्न विभागों के अधिकारियों की बैठक
भिवानी।

उपायुक्त आरएस ढिल्लो की अध्यक्षता में स्थानीय लघु सचिवालय स्थित डीआरडीए सभागार में विभिन्न विभागों के अधिकारियों की बैठक आयोजित हुई। बैठक में उपायुक्त ढिल्लो ने 25 से 27 फरवरी तक आयोजित होने वाली राज्य स्तरीय पशु-प्रदर्शनी को लेकर अलग-अलग विभागों के अधिकारियों को उनसे संबंधित ड्यूटी सौंपी। उन्होंने निर्देश देते हुए कहा कि कृषि एवं पशुपालन मंत्री जेपी दलाल द्वारा भिवानी में राज्य स्तरीय पशु प्रदर्शनी लगाई जा रही है, ऐसे में अधिकारी अपनी ड्यूटी के बारे में किसी प्रकार की लापरवाही बन बरतें। इस राज्य स्तरीय प्रदर्शनी में मुख्यमंत्री  मनोहर लाल, हरियाणा के राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय और केंद्रीय मंत्री, सांसदगण भी शामिल होंगे।
उपायुक्त ढिल्लो ने निर्देश देते हुए कहा कि भिवानी के सेक्टर 13 के सामने खाली मैदान में तीन दिन तक आयोजित होने वाली पशु-प्रदर्शनी भव्य और आकर्षक होगी। उन्होंने कहा कि अधिकारी अपनी मेहनत से इस पशु प्रदर्शनी को एतिहासिक बनाने का काम करें। उन्होंने कहा कि प्रदर्शनी में प्रदेशभर से कम से कम एक हजार पशु शामिल होंगे। पशुपालकों के लिए रहने व खाने का समुचित प्रबंध होगा। प्रदर्शनी के दौरान दिन के साथ-साथ शाम को भी सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे। उन्होंने बताया कि प्रदर्शनी में सुरक्षा के चलते हर पल की नजर रखने के लिए सीसीटीवी कैमरे लगवाएं जाएंगे। उन्होंने बताया कि पशुपालन विभाग द्वारा प्रदर्शनी की समुचित व्यवस्था की गई है, फिर भी यदि किसी वालंटीयर की जरूरत होती है तो जिला रेडक्रास सोसायटी वालंटीयर तैयार रखेगी।
पशु-प्रदर्शनी के बारे में उपायुक्त ढिल्लो ने बिजली निगम के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे प्रदर्शनी में प्रयोग होने वाली बिजली खपत व लोड के हिसाब से जनरेटर व बिजली आपूर्ति सुनिश्चित करें। इसी प्रकार से उन्होंने नगर परिषद को प्रदर्शनी स्थल पर नियमित रूप से सफाई व्यवस्था दुरूस्त करने को कहा। उन्होंने हुडा अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे शहीद भगत सिंह चौक से सिटी स्टेशन को जाने वाली सडक़ के साथ खाली जगह को जल्द साफ करवाएं ताकि गांवों से आने वाले किसानों/पशुपालकों को वहां पर बसों से आसानी से उतारा जा सके और किसी प्रकार की जाम की स्थिति न बने। इसके साथ-साथ इस रोड़ पर पैच वर्क भी करवाया जाएगा, इसके लिए हुडा के कार्यकारी अभियंता को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। उन्होंने पशुपालन विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे प्रदर्शनी का शानदार ले आऊट प्लान तैयार करें ताकि प्रदर्शनी को भव्य रूप दिया जा सके। प्लान में प्रत्येक आयोजन का अलग-अलग विवरण होना चाहिए। साईट प्लान के लिए डॉ. सुखदेव राठी को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है।
शहर में प्रवेश द्वारा व प्रदर्शनी स्थल तक आने वाली सडक़ों पर लगाएं जाएं साईन बोर्ड
बैठक में निर्देश देते हुए उपायुक्त ढिल्ला ने पशुपालन विभाग को निर्देश दिए कि शहर के चारों ओर से शहर में प्रवेश करने वाले संपर्क मार्गों पर प्रवेश द्वार बनाएं जाएं और उन पर प्रदर्शनी के बारे में फ्लेक्स लगाएं जाएं। उन्होंने कहा कि शहर के चौराहों को सजाया जाए और सभी मार्गों पर इस प्रकार से साईन बोर्ड लगाएं जाएं ताकि हर नागरिक को प्रदर्शनी स्थल के बारे में मालूम हो सके।
उपायुक्त ने निर्देश दिए देते हुए कहा कि तीनों दिन गांवों से भारी संख्या में पशुपालक व किसान प्रदर्शनी में शामिल होंगे। इन किसानों को बसों के माध्यम से प्रदर्शनी स्थल तक लाया जाएगा, जिसके लिए जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी और जीएम रोडवेज नोडल अधिकारी होंगे। उन्होंने बताया कि प्रदर्शनी को लेकर एक कंट्रोल रूम भी स्थापित किया जाएगा, जहां पर प्रत्येक दिन आने वाली बसों व पशुपालक/किसानों का पूरा विवरण होगा।
यातायात पुलिस ट्रेफिक को कंट्रोल करने का काम करेगी
प्रदर्शनी के दौरान कम से कम 150 बसें प्रतिदिन आएंगी। इसके अलावा अन्य आमजन और सरकारी अधिकारियों/कर्मचारियों का आवागमन रहेगा। ऐसे में सेक्टर 13 के सामने वाहनों की जाम की स्थिति न बने, इसके लिए उपायुक्त ढिल्लो ने ट्रेफिक एसएचओ को नोडल अधिकारी नियुक्त किया है, जो यातायात के नियंतित्रत करने का काम करेंगे। उन्होंने कहा कि यातायात पुलिस वाहन पार्किंग भी व्यवस्थित ढंग से करना सुनिश्चित करेगी। प्रदर्शनी के दौरान तीनों दिन अन्य वाहनों को दूसरे रास्तों से डाईवर्ट किया जाएगा ताकि यहां पर जाम की स्थिति न बनें।
प्रदर्शनी के दौरान स्थल स्थापित होगा प्राथमिक चिकित्सा कक्ष
पशु-प्रदर्शनी के दौरान प्राथमिक चिकित्सा कक्ष स्थापित किया जाएगा। किसी भी व्यक्ति के अचानक बीमार होने की स्थिति में उसको वहीं पर प्राथमिक उपचार दिया जाएगा, जिसमें सिविल सर्जन को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। इसके अतिरिक्त प्रदर्शनी के दौरान स्वास्थ्य विभाग लोगों को कोरोना महामारी से संक्रमण से बचाव के बारे में जागरूक करने का काम करेगा।
जनस्वास्थ्य विभाग सीवरेज व पेयजल की समुचित व्यवस्था करेगा
उपायुक्त ढिल्लो ने निर्देश देते हुए कहा कि राज्य स्तरीय पशु प्रदर्शनी में हजारों लोग शामिल होंगे। ऐसे में वहां पर पेयजल का पर्याप्त प्रबंध होना जरूरी है। इसके साथ-साथ सीवरेज सिस्टम को दुरूस्त किया जाना जरूरी है। उपायुक्त ने कहा कि किसानों/पशुपालकों को प्रदर्शनी स्थल पर छोडऩे के बाद सभी बसें हुडा सिटी सेंटर के पास सनसिटी सिनेमा के सामने खाली मैदान में खड़ी होंगी, ऐसे में वहां पर मोबाईल शौचालय का प्रबंध होना जरूरी है।
उपायुक्त ढिल्लो ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि सभी अधिकारी अपनी ड्यूटी को गंभीरता से लेते हुए पूरा करें। इस दौरान एसडीएम भिवानी एवं प्रदर्शनी के नोडल अधिकारी महेश कुमार ने प्रदर्शनी के दौरान ड्यूटी में नियुक्ति की रूपरेखा प्रस्तुत की। बैठक में अतिरिक्त उपायुक्त एवं प्रदर्शनी के ओवरऑल इंचार्ज राहुल नरवाल, नगराधीश विजय कुमार यादव, सीईओ जिला परिषद कुशल कटारिया, हुडा एस्टेट ऑफिसर प्रीतपाल, एसडीएम सिवानी संदीप अग्रवाल, एसडीएम तोशाम मनीष फौगाट, एसडीएम लोहारू जगदीश चंद्र, उप पुलिस अधीक्षक मुख्यालय विरेंद्र सिंह, लोक निर्माण विभाग के कार्यकारी अभियंता कृष्ण कुमार, डीआईओ पंकज बजाज, जिला मत्स्य अधिकारी सिकंदर सांगवान, जिला बागवानी अधिकारी हीरालाल, कृषि विभाग के उप निदेशक डॉ. आत्माराम गोदारा, पशुपालन विभाग से एसडीओ प्रदीप कुमार व सुनील कुमार सहित संबंधित विभागों के अधिकारी मौजदू रहे।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal