DSP गीतिका जाखड़ के परिजनों पर FIR

244
SHARE

DHBVN हिसार की लाजपत नगर स्थित सर्कल ऑफिस की जमीन को लेकर कब्जाने के विवाद में सिविल लाइन थाने में DSP गीतिका जाखड़ के पिता सत्यवीर, मां उषा और नायब तहसीलदार भाई बलराम जाखड़ के खिलाफ मुकदमा हुआ है। बलराम जाखड़ फतेहाबाद के भट्‌टू तहसील में तैनात हैं। यह मुकदमा बिजली निगम के SDO रविंद्र कुमार की शिकायत पर दर्ज हुआ।

तीनों पर सरकारी कार्य में बाधा डालने, कर्मचारियों के साथ मारपीट करने और हुडदंग मचाने की धाराएं लगाई गई हैं। बिजली निगम ने यह भी दावा किया कि गीतिका जाखड़ के नायब तहसीलदार भाई ने भी कर्मचारियों से मारपीट की। नायब तहसीलदार मुंह पर काला नकाब पहनकर आया था। हालांकि नायब तहसीलदार बलराम जाखड़ ने इन आरोपों से इनकार किया। उन्होंने कहा कि उन्होंने किसी से मारपीट नहीं की है।

वहीं बिजली निगम के विवादित प्लॉट की रिपोर्ट सोशल मीडिया पर वायरल हुई है। इस विवादित प्लॉट के 51.48 वर्ग गज पर हिसार तहसीलदार ने बिजली निगम द्वारा कब्जा करने की बात कही है। तहसीलदार ने DC हिसार को रिपोर्ट भेजते हुए लिखा कि 2 सितंबर 2022 को उषा रानी निवासी लाजपत नगर हिसार द्वारा हल्का पटवारी व कानूनगो सहित खसरा नंबर 1362 की निशानदेही की गई।

जिसके अनुसार, खसरा नंबर 1362 के दक्षिण में 51.48 वर्ग गज पर बिजली विभाग द्वारा दीवार बनाकर नाजायज कब्जा होना पाया गया है। शेष रकबा खसरा नंबर 1362 मौके पर खाली है। वहीं हिसार तहसील के तहसीलदार हरकेश गुप्ता ने बताया कि पहले वाली रिपोर्ट जिस कागजात के आधार पर तैयार की गई, उसकी हम जांच करेंगे। बिजली निगम के रिकार्ड की भी जांच की जाएगी और सोमवार को स्थिति स्पष्ट हो जाएगी कि यह जमीन किसकी है।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal