चरखी दादरी में बावली बूच कहने पर काटा गला

652
SHARE

चरखी दादरी।

चरखी दादरी में एक युवक को अपने साथी को बावली बूच (बेवकूफ) कहना महंगा पड़ गया। हालांकि साथी ने तो इसको लेकर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी, लेकिन वहां मौजूद लोगों ने युवक पर छुरी से हमला कर दिया। उसे घायल अवस्था में दादरी के सिविल अस्पताल ले जाया गया। डॉक्टरों ने प्राथमिक इलाज के बाद उसे रोहतक पीजीआई रेफर कर दिया। पुलिस ने घायल के बयान पर एक महिला सहित चार लोगों पर केस दर्ज कर लिया है।

पुलिस को दी शिकायत में दादरी शहर के वाल्मीकि बस्ती निवासी शुभम ने बताया कि वह रात के समय अपनी बुलेट बाइक पर चरखी दरवाजा से घर जा रहा था। उसी दौरान विक्की पैदल जा रहा था। विक्की ने उसे रुकने के लिए कहा लेकिन रात का समय होने के कारण उसने रुकने से मना कर दिया और मजाक में उसे बावली बूच कह दिया।

उसी दौरान वहा एक रेहड़ी पर एक युवक काकू खड़ा था। उसने कहा कि विक्की को ऐसे क्यों बोल रहा है तो उसने कहा कि ये हमारी आपसी बात है, हम जब भी मिलते हैं आपस में मजाक कर लेते हैं। उसी दौरान वहा मौजूद दूसरा युवक सोमबीर बात को बढ़ाने लगा और ऊंची आवाज में में बोलने लगा और फोन कर अपने भाई सूरज को बुला लिया। जब उसका भाई सूरज आया तो मैने उसे कहा कि अपने भाई को समझा ले, लेकिन उसके भाई ने ही मुझे पकड़ लिया।

शुभम का आरोप है कि सोमबीर ने छुरी से उसके गले पर वार किया। दो बार तो वह बच गया, लेकिन उसने लगातार चार बार उसके गले पर वार कर घायल कर दिया। बाद में शोर-शराब सुनकर एक युवक ने उसे आकर छुड़वाया और दादरी सिविल अस्पताल पहुंचाया। वहां से उसे रोहतक पीजीआई रेफर कर दिया गया।

शुभम का ये भी आरोप है कि उक्त तीनों युवकों व सूरज की मां ने उसके घर जाकर उसकी पत्नी को जान से मारने की धमकी दी है। पुलिस ने उसकी शिकायत के आधार पर एक महिला सहित चार लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करे Subscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal