नायब तहसीलदार रतिया ने मांगी रिश्वत:CM विंडो पर दी गई शिकायत; इंतकाल चढ़ाने के लिए मांगे 1 लाख, कहा- DC को भी देने पड़ते हैं

217
SHARE

हरियाणा के फतेहाबाद के रतिया में जमीन रजिस्ट्री धांधली केस में फरार नायब तहसीलदार भजन लाल के खिलाफ भ्रष्टाचार की एक और शिकायत सामने आई है। सीएम विंडो पर दी गई शिकायत में उस पर महिला के नाम प्रॉपर्टी के इंतकाल के लिए 1 लाख रुपए मांगने का आरोप लगा है। खास बात है कि इसमें लिखा गया है कि तहसीलदार ने रुपए मांगते हुए कहा कि रिश्वत के रुपए डीसी को भी देने पड़ते हैं। इस शिकायत पर अधिकारी कार्रवाई को बच रहे हैं।

भूना के वार्ड 9 निवासी राजेश ने दिसंबर 2021 में सीएम विंडो पर शिकायत देकर बताया कि 7 जुलाई 2020 को उनके पिता दलीप सिंह ने जुबानी वसीयत उनकी माता चरणकौर के नाम कर दी थी। इसके बाद 30 जुलाई को उनका निधन हो गया। पिता की प्रॉपर्टी के सभी 6 वारिसों ने बयान हल्फिया दे दिया था कि इंतकाल उनकी माता चरणकौर के नाम कर दिया जाए, जिसमें उन्हें ऐतराज नहीं है।

कई चक्कर कटाए, फिर मांगी रिश्वत

राजेश का कहना है कि वह इसको लेकर पहले नायब तहसीलदार भजन लाल से वसीयत इंतकाल दर्ज करने बारे मिला। पहले तो वे इंतकाल करने से आनाकानी करने लगे। फिर जब दो-तीन दफा उनसे मिलने गया तो उससे नायब तहसीलदार ने इंतकाल के लिए एक लाख रुपए की रिश्वत मांगनी शुरू कर दी।

 

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करे

Subscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal