अतीक-अशरफ की हत्या की जांच के लिए SIT गठित

172
SHARE

प्रयागराज।

अतीक अहमद और अशरफ की हत्या की जांच के लिए प्रयागराज कमिश्नर रमित शर्मा ने तीन सदस्यीय SIT गठित की है। इसमें प्रयागराज के एडीसीपी क्राइम, एसीपी और प्रभारी निरीक्षक को शामिल किया गया है।
उधर, प्रयागराज पुलिस अतीक-अशरफ के तीन हत्यारों को आज कोर्ट में पेश करेगी। पुलिस इनकी रिमांड की मांग कर सकती है। इस बीच अतीक-अशरफ की पोस्टमार्टम रिपोर्ट सामने आ रही है। न्यूज एजेंसी एएनआई ने सूत्रों के हवाले से बताया कि अतीक को 9 और अशरफ को 5 गोलियां लगी थीं। गोलियां सिर-सीने और पेट में मारी गईं।

उधर, अतीक-अशरफ की हत्या का मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है। Livelaw साइट के मुताबिक, एडवोकेट विशाल तिवारी ने PIL दाखिल की है। इसमें सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड जज की निगरानी में जांच कराने की मांग गई है। साथ ही 2017 से UP में अब तक हुए 183 एनकाउंटर की जांच की अपील की गई है। यूपी सरकार ने रविवार को ही इस मामले की जांच के लिए 3 सदस्यीय न्यायिक आयोग गठन किया है।

प्रयागराज में अतीक-अशरफ को रविवार रात 8.30 बजे कसारी-मसारी स्थित कब्रिस्तान में सुपुर्द-ए-खाक कर दिया गया। दोनों के जनाजे में महज 100 लोग शामिल हुए। अतीक को बेटे असद से महज 5 कदम की दूरी पर दफन किया गया। अतीक को मिट्‌टी देने उसके दोनों नाबालिग बेटे भी आए, जो बाल सुधार गृह में बंद हैं। अशरफ को मिट्‌टी देने उनकी दोनों बेटियां आईं थीं। अंतिम संस्कार में आधार कार्ड देखकर एंट्री दी गई। इसमें ऐसे ही लोगों को एंट्री मिली, जो परिवार के थे। इससे पहले पोस्टमॉर्टम हाउस से दोनों के शव को लेने बहनोई, ससुर और दो रिश्तेदार पहुंचे थे।

अतीक-अशरफ को जिस कसारी-मसारी इलाके में दफन किया गया, वो उसका गढ़ था। यहीं से अतीक 5 बार और अशरफ एक बार विधायक चुना गया। ऐसे में दोनों की हत्या के बाद इलाके में सुरक्षा व्यवस्था बेहद पुख्ता की गई थी। पुलिस, PAC और रैपिड ऐक्शन फोर्स (RAF) के करीब 10 हजार जवानों ने पूरे इलाके के चप्पे-चप्पे को कब्जे में ले रखा था। हर गली, नुक्कड़, चौराहों पर पुलिस के जवान तैनात थे। छतों पर भी पुलिस के जवान खड़े किए गए थे।

अतीक-अशरफ की बॉडी पोस्टमॉर्टम के बाद जब उसके मोहल्ले से गुजर रही थी, तो तमाम लोग दोनों की आखिरी बार देखने के लिए छतों पर खड़े थे। हालांकि, लोग पाबंदियों के चलते अंतिम संस्कार में शामिल नहीं हो पाए। लेकिन, इलाके की छत, बालकनी पूरी तरह से हाउसफुल रहीं। सुरक्षा की वजह से पुलिस ने भी एहतियातन लोगों से घरों में ही रहने की अपील की थी।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal