हरियाणा में बदलेगा मौसम का मिजाज, 24 घंटे में फिर बरसेंगे बादल

210
SHARE

हरियाणा में लगातार काफी दिनों से मौसम स्थिर और शुष्क बना हुआ है। परन्तु अगले 24 घंटे में शुक्रवार दोपहर बाद वैस्टर्न डिस्टरबेंस के आंशिक प्रभाव से सिमित स्थानों पर एक बार फिर से मौसम बदलने और करवट लेने वाला है। क्योंकि आज (गुरुवार) को रात्रि तक एक हल्का वेस्टर्न डिस्टरबेंस उत्तरी पर्वतीय क्षेत्रों में प्रवेश कर रहा है। जिसकी वजह हरियाणा एनसीआर दिल्ली पर वेस्टर्न डिस्टरबेंस के आंशिक प्रभाव से सिमित स्थानों पर तेज़ गति की हवाओं के साथ हल्की फुल्की बूंदाबांदी, और बादलवाही होने की संभावनाएं बन रही है। वर्तमान में पूरे दिन चमकीली धूप खिली रहने की वजह से दिन का तापमान राजस्थान की गर्मी का अहसास करवा रहा है। और उत्तरी बर्फीली हवाओं की वजह से रात का तापमान में गिरावट की वजह से हिमाचल प्रदेश जैसी गुलाबी सर्दी का अहसास आमजन को हो रहा है। वर्तमान में सक्रिय मौसम प्रणाली वेस्टर्न डिस्टरबेंस का लगातार एक के बाद एक श्रृंखला और कड़ी के रूप में उत्तरी पर्वतीय क्षेत्रों पर प्रवेश और सक्रिय होने का सिलसिला जारी है। कमजोर वेस्टर्न डिस्टरबेंस सक्रिय होने पर उत्तरी पर्वतीय क्षेत्रों में लगातार हिमपात हो रहा हैं और मैदानी इलाके तकरीबन शुष्क रह जाते हैं। केवल मध्यम श्रेणी और ताकतवर वेस्टर्न डिस्टर बेंस सक्रिय होने पर उत्तरी मैदानी राज्यों में बारिश की गतिविधियां करते हैं।वर्तमान में क्योंकि ज्यादातर वेस्टर्न डिस्टरबेंस कमजोर रूप में सक्रिय हो रहे हैं। जिनकी वजह से मैदानी राज्यों विशेषकर हरियाणा एनसीआर पर उत्तरी ठंडी हवाओं से लगातार रात्रि के तापमान में गिरावट जारी है।

राजकीय महाविद्यालय नारनौल के पर्यावरण क्लब के नोडल अधिकारी डॉ चंद्रमोहन ने बताया कि लगातार वेस्टर्न डिस्टरबेंस सक्रिय होने की वजह से उत्तरी पर्वतीय क्षेत्रों में भारी मात्रा में हिमपात होने और उसके बाद पवनों की दिशा और गति में बदलाव होने की वजह से पवनों की गति तेज़ और दिशा उत्तरी-पश्चिमी बर्फीली हो जाती है उसकी वजह से सुबह और शाम सम्पूर्ण हरियाणा एनसीआर दिल्ली और पर लगातार रात के तापमान में गिरावट दर्ज हो रही है। वहीं गुरुवार को सूबे में अधिकतर स्थानों का न्यूनतम तापमान 5.1 डिग्री सेल्सियस से 11.6 डिग्री सेल्सियस के बीच दर्ज किया गया है। और सूबे में अधिकतर स्थानों का अधिकतम तापमान 22.4 डिग्री सेल्सियस से 27.4 डिग्री सेल्सियस के बीच दर्ज किया गया है।जबकि आज जिला महेंद्रगढ़ पूरे हरियाणा एनसीआर दिल्ली में सबसे अधिक उच्चतम तापमान की वजह से सबसे गर्म और सबसे कम न्यूनतम तापमान की वजह से सबसे ठंडा जिला बना हुआ है। जिला महेंद्रगढ़ में नारनौल का और महेंद्रगढ़ का अधिकतम तापमान क्रमश 27.4 डिग्री सेल्सियस और 26.2 डिग्री सेल्सियस तथा न्यूनतम तापमान क्रमश 6.2 डिग्री सेल्सियस और 5.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। सूबे पर अभी ठंड का गुलाबी रंग रुप का जलवा बरकरार है इसके साथ पूरे इलाके का मौसम स्थिर और शुष्क बना हुआ है। परन्तु अगले 24 घंटे में हरियाणा एनसीआर दिल्ली के कुछ स्थानों का मौसम करवट लेने वाला है। क्योंकि आज रात्रि के बाद एक हल्का वेस्टर्न डिस्टरबेंस उत्तरी पर्वतीय क्षेत्रों में प्रवेश करने वाला है।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal