योगी के मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य सपा में शामिल:समर्थन में 3 और विधायकों का BJP से इस्तीफा; अखिलेश बोले- बाइस में ‘मेला होबे’

15
SHARE

यूपी विधानसभा चुनाव से पहले BJP को बड़ा झटका लगा है। योगी सरकार में मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने मंगलवार को कैबिनेट से इस्तीफा दे दिया। इसके कुछ देर बाद ही उन्होंने सपा का दामन थाम लिया। स्वामी प्रसाद के समर्थन में विधायक बृजेश प्रजापति, भगवती प्रसाद सागर और रोशन लाल वर्मा ने भी BJP का साथ छोड़ दिया है। अब चर्चा है कि स्वामी प्रसाद मौर्य के अलावा मंत्री धर्म सिंह सैनी समेत 4 और MLA सपा जॉइन कर सकते हैं। भाजपा खेमे में मची भगदड़ पर अखिलेश यादव ने कहा कि बाइस में सबके मेल मिलाप से सकारात्मक राजनीति का ‘मेला होबे’। भाजपा की ऐतिहासिक हार होगी।

स्वामी प्रसाद का इस्तीफा विधायक लेकर पहुंचा राजभवन

स्वामी प्रसाद ने इस्तीफा मेल किया है और शाहजहांपुर विधायक रोशनलाल वर्मा इसकी हार्ड कॉपी लेकर राजभवन पहुंचे। अपने पत्र में उन्होंने पिछड़ों, किसानों, बेरोजगार, नौजवानों और छोटे-लघु एवं मध्यम श्रेणी के व्यापारियों के प्रति सरकार के उपेक्षात्मक रवैये को इस्तीफे की वजह बताया है।  स्वामी प्रसाद ने कहा कि जो लोग खुद को बड़ा तोप समझ रहे थे, वे 2022 के चुनाव में दग जाएंगे। मौर्य पर 4 महकमों की जिम्मेदारी थी। वो कैबिनेट में श्रम एवं सेवायोजन व समन्वय मंत्री थे। उनकी बेटी संघमित्रा मौर्य बदायूं से भाजपा सांसद हैं।

अपडेट्स…

  • शाहजहांपुर से विधायक रोशन लाल वर्मा ने भी भाजपा से इस्तीफा दे दिया है।
  • कानपुर के बिल्हौर विधानसभा के विधायक भगवती प्रसाद सागर भी स्वामी प्रसाद मौर्य के घर पहुंचे हैं।
  • सूत्रों का कहना है कि BJP से इनका टिकट कटना तय माना जा रहा था।
  • बांदा के तिंदवारी से भाजपा विधायक बृजेश प्रजापति ने भी इस्तीफा दे दिया है। माना जा रहा है बृजेश प्रजापति भी सपा में जाएंगे।
  • इसके अलावा पटियाली कासगंज के विधायक ममितेश शाक्य, औरैया विधूना से विधायक विनय शाक्य और बदायूं शेखूपुर से धर्मेंद्र शाक्य और विधायक नीरज मौर्य भी सपा का दामन थाम सकते हैं। हालांकि, विनय शाक्य के भाई देवेश शाक्य ने कहा कि अभी हम कहीं नहीं जा रहे हैं।

 

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करे

Subscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal