लोहारू विधानसभा क्षेत्र के 40 संपर्क मार्गों के सुधारीकरण पर खर्च किए जा रहे है 85 करोड़ खर्च: जेपी दलाल

168
SHARE
जनता द्वारा दी गई ताकत को सवाया करके हलके में लगाऊंगा: कृषि मंत्री
खरकड़ी में 120 एकड़ में महाराणा प्रताप बागवानी विश्वविधालय के रीजनल सेंटर के लिए 40 करोड़ रूपए की पहली किस्त मंजूर
लोहारू क्षेत्र में 40 नई सडक़ों का निर्माण तथा 29 सडक़ोंं का किया जा रहा है नवीनीकरण
सरकार गत खरीफ फसलों में हुए नुकसान की भरपाई के लिए शीघ्र डालेगी किसानो के खातों में करोड़ों का मुवावजा
लोहारू /बहल/सिवानी,14 जनवरी । प्रदेश के कृषि एवं पशुपालन मंत्री जेपी दलाल ने कहा कि किसी भी क्षेत्र की प्रगति एवं विकास बिजली,पानी व यातायात की सुविधा पर निर्भर करता है। उन्होंने कहा कि लोहारू क्षेत्र में माकेटिंग बोर्ड द्वारा 40 नई सडक़ों का निर्माण तथा 29 सडक़ोंं का नवीनीकरण किया जा रहा है, जिन पर करीब 85 करोड़ रुपए खर्च होंगे। अधिकांश का निर्माण कार्य संपन्न होने को है। इसके अलावा लोक निर्माण विभाग द्वारा करीब सौ करोड़ रुपए सडक़ों के सुधारीकरण पर खर्च किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि गांव खरकड़ी में 120 एकड़ में महाराणा प्रताप बागवानी विश्वविधालय के रीजनल सेंटर के लिए 40 करोड़ रूपए की पहली किस्त मंजूर कर दी गई है।शीघ्र ही कार्य शुरू हो जाएगा।और सरकार खरीफ फसलों में हुए नुकसान की भरपाई के लिए शीघ्र ही किसानो के खातों में करोड़ों का मुवावजा डालेगी।
कृषि मंत्री श्री दलाल शुक्रवार को 13 करोड़ की लागत से बनने वाले गांव खरकड़ी से ढिगावा, बहल से ओबरा, सिधनवा ओबरा से शहरयारपुर तथा बख्तावरपुरा से ढाणी भलारा तक के सड़क मार्गों के शिलान्यास अवसर पर उपस्थित लोगों को संदेश दे रहे थे। उन्होंने कहा कि उनको ताकत लोहारू क्षेत्र की जनता द्वारा गई है,जिसे वे यहां की जनता को सवाया करके लोटाएंगे। उन्होंने कहा कि आज लोहारू हलका विकास के मामले में पूरे प्रदेश में अलग ही नजर आता है। लोहारू विधानसभा क्षेत्र में बिजली,नहरी पानी,कृषि, बागवानी और पशुपालन विभाग की राष्ट्रीय स्तर की नई-नई परियोजनाएं क्रियान्वित की जा रही हैं, जिनका लाभ न केवल यहां की जनता को सीधे तौर पर मिलेगा बल्कि प्रदेशभर के किसानों को कृषि एवं पशुपालन विभाग की नई तकनीकों का लाभ मिलेगा।कृषि मंत्री ने कहा कि गाव खरकड़ी में 120 एकड़ में महाराणा प्रताप बागवानी विश्वविधालय के रीजनल सेंटर के लिए 40 करोड़ रूपए मंजूर किए गए है। शीघ्र ही निर्माण कार्य शुरू करवा दिया जायेगा। गांव गोकलपुरा में बनने वाले रीजनल सैंटर के लिए भी सभी औपचारिकताएं पूरी हो गई