नकारात्मक सोच न रखने पर जीवन की सफलता निश्चित: धर्मबीर सिंह

34
SHARE

भिवानी।

भिवानी-महेन्द्रगढ़ सांसद धर्मबीर सिंह ने शनिवार को स्थानीय किरोड़ीमल पार्क में आयोजित दो दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय गीता महोत्सव में बतौर मुख्य अतिथि यज्ञमान के रूप में शामिल हुए व हवन में पूर्णाहुति डाली। सांसद ने गीता उत्सव की प्रदर्शनी में शिक्षण संस्थानों, धार्मिक व सामाजिक संस्थानों, स्वयं सहायता समूहों व विभिन्न विभागों द्वारा लगाई गई स्टॉलों का बारीकी से अवलोकन किया। इस मौके पर गीता जयंती के नोडल अधिकारी एवं एसडीएम दीपक बाबू लाल करवा मौजूद रहे।
सांसद धर्मबीर सिंह ने महोत्सव में अपना संदेश देते हुए कहा कि केवल आधारभूत ढ़ाचा बनाना ही विकास नहीं है बल्कि युवा पीढ़ी में संस्कारों का विकास और समाज में हमारी समृद्ध संस्कृति के प्रति चेतना जागृत करनी भी जरूरी है। गीता व्यक्ति को जीवन में अपने लक्ष्य को पहचान कर विकास के पथ पर निरंतर आगे बढऩे की सिख देती है। उन्होंने कहा कि हम खुश किस्मत है कि भगवान श्री कृष्ण ने गीता का उपदेश हरियाणा की धरती पर ही दिया था। गीता से ही जीव का कल्याण है, जिसकी आज समाज को जरूरत है। गीता के संदेश से समाज में फैली हुई कुरीतियों से दूर रह सकते हैं। युवा पीढ़ी को गीता के ज्ञान से जोडऩे की आवश्यकता है तभी एक मजबूत समाज का निर्माण संभव है। सांसद ने कहा कि गीता के संदेश को जीवन में ढ़ालकर एक सभ्य व संस्कारी समाज का निर्माण किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि आज जिस तरह से दुनिया में निराशा का माहोल है, ऐसे में गीता के तत्व ज्ञान की आवश्यकता है और तभी विश्व में शांति स्थापित हो सकती है। गीता देश ही नहीं विश्व का मार्गदर्शन करने वाला ग्रंथ है, इसके लिए प्रत्येक व्यक्ति को गीता के संदेश को अपने आचरण में ढ़ालना जरूरी है। गीता एक आदर्श व्यक्ति बनने के लिए प्रेरित करती है और एक दूसरे से जुडऩा सिखाती है तथा इस सद्भाव एवं समरसता से ही हम दुनिया को सही दिशा में चलने को प्रेरित कर सकते हैं।
सांसद ने कहा कि गीता का उपदेश हमें सिखाता है कि लोभ, लालच, अंहकार, आलस्य, ईष्र्या व नकारात्मक सोच को त्याग कर एक अच्छे व्यक्तित्व का निर्माण करें। उन्होंने कहा कि नकारात्मक सोच नहीं रखेंगे तो जीवन अवश्य ही सफल होगा। उन्होंने कहा कि गीता सुख, शांति, समृद्घि व विकास का मूल मंत्र है। हजारों साल पहले हिन्दुस्तान की धरती पर श्री कृष्ण भगवान ने गीता का उपदेश दिया था, उसे आज पूरी दुनिया मानती है। उन्होंने कहा कि सभी समस्याओं का समाधान गीता में है। गीता भारतीय संस्कृति का आधार है और हिन्दू शास्त्रों में गीता को प्रमुख स्थान दिया गया है। गीता एक ऐसा संपूर्ण विचार है जो भारतीय संस्कृति की विरासत है। उन्होंने कहा कि आज गीता न केवल छोटी कांशी भिवानी, कुरुक्षेत्र सहित पूरे प्रदेश में बल्कि पूरी दुनिया में गीता जयंती महोत्सव मनाया जा रहा है।
आचार्यों व गीता मनीषियों ने करवाया हवन
दो दिवसीय गीता महोत्सव का शुभारंभ हवन से किया गया। आचार्य प्रदीप भारद्वाज, रामविलास शर्मा और प्रदीप शास्त्री ने हवन करवाया और मंत्रोच्चारण किया। सांसद धर्मबीर सिंह ने हवन में पूर्णाहुति डाली और श्रीमद्भगवद्गीता के समक्ष दीप प्रज्वलित किया। इस मौके पर जिला शिक्षा अधिकारी नरेश महता, डिप्टी डीईओ संतोष नागर, बीईओ अनिल गौड़, प्रवक्ता प्रवेश गौतम, डा. मनोज शर्मा, डॉ. मुरलीधर शास्त्री, राजबीर धारेडू, लक्ष्मण गौड़, डा. मीनाक्षी शर्मा, विकास शर्मा, डा. डीपी कौशिक, राजेश शर्मा, विनोद टिंकू, मनीष यादव, नीरज शर्मा, प्राचार्या सीमा परमार, सीमा कांठपालिया, महाबीर प्रसाद डालमिया, सुभाष गोयल, नमन कुमार, भारत भूषण आदि अनेक गणमान्य नागरिक मौजूद रहे।
गीता महोत्सव में लगी प्रदर्शनी का हजारों बच्चों, युवा व आमजन ने किया अवलोकन
गीता महोत्सव में विभिन्न विभागों, सामाजिक व धार्मिक संस्थानों एवं स्वयं सहायता समूहों द्वारा प्रदर्शनी में लगाई गई। प्रदर्शनी में स्कूली बच्चों, युवा व आमजन ने भी अवलोकन किया। इस दौरान गीता पर आधारित प्रश्रोतरी प्रतियोगिता में नन्हें बच्चों ने दिए स्टिक जवाब। अव्वल आने वाले बच्चों को सांसद धर्मबीर सिंह ने श्रीमद्भागवत गीता भेंट की।
सांस्कृतिक कार्यक्रमों की धमक के साथ हुआ गीता जयंती महोत्सव का समापन
जिला स्तरीय गीता महोत्सव में के दूसरे व अंतिम दिन गीता और हरियाणा के रिति-रिवाज व पम्पराओं की अनुठी झलक देखने को मिली। ढ़ोल-नगाड़े व बीन-बाजे के साथ मुख्य अतिथि सांसद धर्मबीर सिंह का स्वागत किया गया। लोक कलाकारों एवं स्कूली बच्चों ने अपनी धमाकेदार प्रस्तुति देते हुए दर्शकों का मन मोह लिया। भगवान श्री कृष्ण की जीवन लीलाओं एवं गीता में दिए उपदेशों पर आधारित प्रस्तुतियों ने दर्शकों को खूब लुभाया। इस दौरान विभिन्न स्कूली बच्चों द्वारा श£ोकोचारण भी किया।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal