जींद में BEO-प्रिंसिपल रिश्वत लेते गिरफ्तार

242
SHARE

जींद।

विजिलेंस टीम ने छात्राओं के लिए चली बसों के बिल पास करने की एवज में सफीदों के खंड शिक्षा अधिकारी रमेश जांगड़ा को 55 हजार रुपए रिश्वत लेते पकड़ा है। दूसरे केस में सफीदों में स्कूल प्रिंसिपल दलबीर को भी 50 हजार रुपए के साथ पकड़ा गया। इनमें करनाल ओर जींद विजिलेंस ने अलग अलग कार्रवाई की। अब दोनों से पूछताछ हो रही है।

विजिलेंस को गांव मुआना निवासी पिंटू और सफीदों के कुलदीप ने दी शिकायत दी थी। उन्होंने बताया था कि छात्राओं के लिए पाजू कलां के राजकीय सीनियर सेकेंडरी स्कूल में दो बसों को चलाया जा रहा है। इन बसों में सफर करने वाली छात्राओं को मुफ्त सफर की सुविधा मिलती है। जिसकी एवज में छात्राओं से कोई रुपया नहीं लिया जाता है।

इस योजना के तहत प्रत्येक महीने का बसों का बिल स्कूल प्रिंसिपल के पास जमा करवाना होता है। इस बिल को पास करवाने के लिए राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक स्कूल पाजू कलां के कार्यवाहक प्रिंसिपल दलबीर मलिक 50 हजार रुपए रिश्वत मांग रहा है। वहीं कुलदीप ने भी विजिलेंस को दी शिकायत में आरोप लगाया कि राजकीय कन्या स्कूल का प्राचार्य रमेश कुमार जांगड़ा उससे 55 हजार रुपए की रिश्वत मांग रहा है। रमेश के पास अभी BEO का चार्ज भी है।

दोनों की शिकायतों पर कार्रवाई करते हुए विजिलेंस ने टीम का गठन किया। इंस्पेक्टर मनीष और नरेंद्र के नेतृत्व में दो अलग-अलग छापामार दल का गठन किया गया। शिकायतकर्ताओं ने जैसे ही अलग-अलग स्थानों पर दोनों को रिश्वत राशि की सौंपी तो विजिलेंस टीम ने उन्हें काबू कर लिया। दोनों के कब्जे से रिश्वत राशि भी बरामद कर ली है। विजिलेंस ने दोनों प्राचार्यों को गिरफ्तार कर पूछताछ शुरू कर दी है।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal