डीसी ने नन्हे बच्चों से पूछा तुम्हे क्या पसंद है, बच्चे बोले ‘सफाई’

29
SHARE

हुडा सेंट्रल पार्क से अक्सर कचरा उठाने वाले नन्हे बच्चों के साथ डीसी ने की बातें और खिलाया केक
कैंप ऑफिस में डीसी से मिलकर खुश हुए बच्चे

भिवानी।   

जिला प्रशासन द्वारा किए गए शहर को सुंदर व स्वच्छ बनाने के आह्वान के मद्देनजर हुडा सेंट्रल पार्क व आसपास क्षेत्र में अक्सर कचरा उठाकर सफाई करने वाले नन्हे-नन्हे बच्चों ने रविवार को उपायुक्त आरएस ढिल्लो से उनके कैंप कार्यालय में मुलाकात की। बच्चों ने डीसी को गुलदस्ता भेंट किया। नन्हे बच्चों ने डीसी  ढिल्लो के साथ खूब बातें की। इस दौरान डीसी ने बच्चों ने पूछा कि उनको क्या पसंद है तो बच्चे झट से बोले ‘सफाई’। इस पर डीसी ने कहा कि अरे भई, तुमको खाने में क्या पसंद है तो इस पर बच्चे शर्मा गए। बच्चों की खुशी का उस समय ठिकाना नहीं रहा, जब उपायुक्त ने बच्चों के लिए केक, जूस और चॉकलेट मंगवाई।
उल्लेखनीय है कि शहर को गंदगी से मुक्त बनाने के  लिए जिला प्रशासन द्वारा हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं। शहर में अत्यधिक गंदगी वाले स्थानों से गंदगी का उठान कर वहां पर बैंच डाले जा रहे हैं। इसके साथ-साथ वॉल पेंटिंग के माध्यम से नागरिकों से शहर को गंदगी से मुक्त बनाने में अपना योगदान देने की अपील की जा रही है। उपायुक्त की अपील पर अनेक सामाजिक व धार्मिक व युवा संगठन आगे भी आ रहे हैं। इसी बीच उपायुक्त की अपील बच्चों तक भी पहुंची है, जिसका असर हुडा पार्क के आसपास नजर आता है।
हुडा सेंट्रल पार्क के आसपास नन्हे बच्चे करते हैं सफाई
हुडा पार्क के पास उत्कर्ष, प्रिंस, गहना, अदीशा, मान्या, यथार्थ, अंश, निलेश, श्रुति, हितेष, शिवम, गौरव, हर्ष, विशाल, तेजस, सिद्धार्थ, मनीष व योगेश अक्सर मयंक धमीजा व जोगेंद्र कुमार के साथ सुबह एक्सरसाईज करने आते हैं। उनको यहां जब भी गंदगी दिखाई देती है तो वे पहले गंदगी उठाते हैं और फिर बाद में एक्सरसाईज करते हैं। इन सभी बच्चों का हौंसला बढ़ाने के लिए डीसी ने रविवार को उनको अपने पास बुलाया। सभी बच्चे योगेश व जोगेंद्र के साथ उपायुक्त के कैंप कार्यालय पहुंचे। नन्हे मासूम बच्चों ने बड़े ही चाव से उपायुक्त को गुलदस्ता भेंट किया। इस दौरान बच्चों ने उपायुक्त के साथ फोटो भी खिंचवाए।
बच्चों ने अपनी बातों से सभी को गुदगुदाया
इस दौरान बच्चों ने उपायुक्त ढिल्लो के साथ खूब बातें की। उपायुक्त ने बच्चों के साथ परिचय किया और उनसे उनकी हॉबी, पढाई व स्कूल, सुबह जगने व सोने के समय, खाने की चीजों के पसंद आदि के बारे में बातें की। बच्चों ने बड़े ही रोचक जवाब दिए। बच्चों ने उपायुक्त के संग केक खाया। बच्चों ने कहा कि उनको गंदगी बिल्कुल पसंद नहीं है, सफाई पसंद है। एक पहली कक्षा के एक बच्चे से उपायुक्त ने पूछा कि वह क्या बनना चाहता है तो उसने कहा कि वह पुलिस बनना चाहता है। उपायुक्त ने बच्चों से कहा कि वे अच्छी-अच्छी आदतें बनाएं। खूब पढ़ें और खूब खेलें तथा अपने आसपास कभी गंदगी न होने दें।
इस दौरान उपायुक्त ढिल्लो ने बच्चों से कहा कि वे अपने पड़ौस में भी जरूर बताएं कि वे कचरा गली में डालें। उन्होंने कहा कि शहर को सुंदर व स्वच्छ बनाने में सभी का सहयोग जरूरी है। मिलकर कर प्रयास करने के बड़े ही सकारात्मक व रचनात्मक परिणाम सामने आते हैं। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन हर संभव प्रयास कर रहा है, जिसमें अब बच्चे भी साथ आने लगे हैं। उन्होंने कहा कि जब बच्चे किसी भी अभियान में जुड़ जाते हैं तो वह सफल हो जाता है। उपायुक्त ने कहा कि यदि कहीं पर गंदगी की समस्या बनती है तो वे नगर परिषद की सफाई विंग को जरूर सूचना दे ताकि कार्रवाई की जा सके।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal