पानी के अभाव में किसानों की फसल को सूखने नहीं दिया जाएगा:कृषि मंत्री जेपी दलाल

247
SHARE
कृषि मंत्री जयप्रकाश दलाल ने बहल क्षेत्र के गांवों में किया जोहड़ों का निरीक्षण
सूक्ष्म सिंचाई योजना को बढ़ावा देने के लिए जोहड़ों में किया जा रहा है टैंकों का निर्माण
भिवानी हलचल / बहल ,08 अगस्त।
कृषि एवं पशुपालन मंत्री जयप्रकाश दलाल ने रविवार को हलका लोहारू के विभिन्न गांवों में तालाबों का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि जल शक्ति अभियान के तहत शूक्ष्म सिंचाई योजना से किसानों के खेतों तक पानी पहुंचाया जाएगा। उन्होंने कहा कि किसानों की मेहनत को बेकार नहीं जाने दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि पानी के अभाव में किसानों की फसल को सूखने नहीं दिया जाएगा।
कृषि मंत्री श्री दलाल ने कहा कि तालाबों का निरीक्षण करते हुए जनस्वास्थ्य और सिंचाई विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि तालाबों में शूक्ष्म सिंचाई योजना के तहत टैंक निर्माण करवाया जाए ताकि उनमें बारिश के पानी को संचय किया जा सके। उन्होंने कहा कि बारिश के पानी का बर्बाद नहीं होने देना है। श्री दलाल ने कहा कि तालाबों के साथ टैंक के माध्यम से खेतों तक पानी पहुंचाया जाएगा, जिससे शूक्ष्म सिंचाई पद्धति से सिंचाई के लिए प्रयोग में लाया जाएगा। उन्होंने कहा कहा कि पानी के अभाव में किसानों की फसल नहीं सूखने दी जाएगी। लोहारू के रेतीले इलाके में सिंचाई के पानी का समुचित प्रबंध किया जा रहा है।
श्री दलाल ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि शूक्ष्म सिंचाई योजना के तहत लोहारू में मंजूर की गई योजनाओं को अतिशीघ्र अमलीजामा पहनाया जाए ताकि अधिक से अधिक योजनाओं का लाभ उठा सकें। उन्होंने सिंचाई विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि शूक्ष्म सिंचाई योजना के तहत सयंत्रों पर मिलने वाली सब्सिडी के बारे में भी किसानों को जागरूक करें। उन्होंने कहा कि इस पद्धति से किसान कम पानी से अधिक फसल की सिंचाई कर सकेंगे। उन्होंने कहा कि टेल के अंतिम छोर तक पानी पहुंचाया जाएगा। वहीं दूसरी ओर जल शक्ति अभियान के तहत तालाबों की खुदाई व सफाई का कार्य किया जा रहा है ताकि जल स्तर उपर आ सके।
कृषि मंत्री श्री दलाल ने गांव सोरड़ा जदीद, बहल व मनफरा में जोहड़ों का निरीक्षण किया। उन्होंने गांव पहाड़ी मेें किसानों से बात की और उनकी समस्याएं सुनी। उन्होंने मंूग की खेती का जायजा लिया। कृषि मंत्री ने बहल स्थित गौशाला में पौधारोपण किया और नागरिकों से पर्यावरण संरक्षण के लिए अधिक से अधिक पौधे लगाने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि पर्यावरण संरक्षण के लिए अधिक से अधिक पौधे लगाने होंगे। उन्होंने पाजू सरपंच के दादा के निधन और सुधीवास के पूर्व सरपंच जिले सिंह के निधन पर शोक प्रकट किया और मीठी, मंडोली खुर्द,मंडोली कलां में भी शोक व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि मौत एक अटल सत्य है और इसे हमें स्वीकार करना होता है। इस दौरान उनके साथ सिंचाई विभाग के एक्स इ एन पवन वर्मा,एसडिओ संजय, डॉ अजय श्योराण, विरेन्द्र श्योराण , सुशील केडिया, रविन्द्र मंढोली, राजीव श्योराण,मंडल अध्यक्ष रामफल श्योराण, विजय पूनियां, प्रदीप चाहर, विरेन्द्र लाम्बा, विजय फोगाट, अनिल
झाझडिया, सतपाल सरपंच,कर्मबीर चैहड़,सोनू शर्मा, गजानंद सरपंच, शैली राम,सतबीर चैहड़, मोनू नेहरा, रमेश सरपंच,सुनील सिरसी, देवेंद्र सोरडा, सुनिल थेबड अनेक पार्टी पदाधिकारी व कार्यकत्र्ता मौजूद रहे।