हरियाणा में टैबलेट जमा कराने पर जारी होगा रिजल्ट, 10वीं से 12वीं के स्टूडेंट्स को 5 दिन का समय

168
SHARE

भिवानी।

हरियाणा में शिक्षा विभाग द्वारा ई-अधिगम योजना के तहत 10वीं से 12वीं तक के बच्चों को पढ़ाई के लिए बांटे गए टैबलेट व डेटा सिम अब वापस करने होंगे। बोर्ड परीक्षाओं के खत्म होने से पहले-पहले विद्यार्थियों को टैब वापस जमा करवाने होंगे। विद्यार्थी ऐसा नहीं करते हैं तो बोर्ड उनका परीक्षा परिणाम जारी नहीं करेगा। न ही परिणाम डीजी लॉकर पर जारी होगा। इसको लेकर शिक्षा निदेशालय ने निर्देश जारी कर दिए हैं। हालांकि 10वीं, 11वीं के विद्यार्थी यदि उसी स्कूल में शिक्षा जारी रखने का फैसला लेते हैं तो उन्हें टैब वापस जमा नहीं करवाने होंगे। जारी एसओपी में स्टूडेंट्स को 5 दिनों के अंदर टैबलेट जमा कराने को कहा है। राजकीय स्कूलों में पढ़ रहे 10वीं, 11वीं के विद्यार्थियों द्वारा स्कूल छोडने की स्थिति में या 12वीं के विद्यार्थियों से टैबलेट और उसका सामान वापस लिए जाएंगे। डेटा सिम डि-एक्टिवेट कर दी जाएगी। शिक्षा विभाग के आदेश के बाद स्कूल मुखिया व कक्षा प्रभारी छात्र-छात्राओं को इसके बारे में सूचित करेंगे। स्कूल मैनेजमेंट कमेटी सुनिश्चित करेगी कि टैब वापस जमा करवाए जाएं।

ऐसे विद्यार्थी जिनसे टैबलेट गुम हो गया है, वे इस संबंध में एक एफआईआर दर्ज करवाकर स्कूल में जमा करवाएगा। ऐसे विद्यार्थियों की सूचि एवीएसएआर पोर्टल पर अपलोड कर दी जाएगी। यदि किसी विद्यार्थी से टैब टूट गया है या खराब हो गया है तो उसी कंडीशन में टैबलेट जमा करवाकर सर्टिफिकेट जारी कर दिया जाएगा। उसे भी पोर्टल पर अपलोड कर दिया जाएगा।

इसके अलावा यदि कोई बच्चा टैब, सिम या अन्य मिला हुआ सामान जमा नहीं करवाता तो उसका परिणाम बोर्ड द्वारा रोक दिया जाएगा। यह भी जरूरी है कि विद्यार्थी सिम डि-एक्टिवेट के लिए अप्लाई नहीं करेगा, विभाग स्वयं यह प्रक्रिया करेगा। यदि गलती से फिर भी परिणाम जारी हो जाता है तो स्कूल प्रभारी ऐसे विद्यार्थियों को स्कूल लिविंग सर्टिफिकेट, डीएमसी या कैरेक्टर सर्टिफिकेट जारी नहीं करेंगे।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal