रोहतक PGI की OPD अनिश्चितकाल के लिए बंद

226
SHARE

रोहतक।

रोहतक स्थित PGI की OPD सेवाएं अब अनिश्चित काल के लिए बंद कर दी गई हैं। जिसके बाद ओपीडी में पहुंचने वाले मरीजों को बिना इलाज बेरंग लौटना पड़ेगा। रेजिडेंट डॉक्टर एसोसिएशन (RDA) ने MBBS स्टूडेंट के समर्थन में यह निर्णय लिया है। 48 घंटे बाद इमरजेंसी सेवाएं भी बंद करने का फैसला लिया गया है। ऐसा होता है तो PGIMS रोहतक में स्वास्थ्य सेवाएं पूरी तरह से ठप हो जाएंगी।

रेजिडेंट डॉक्टर एसोसिएशन ने कहा कि सरकार ने MBBS स्टूडेंट पर जो बाँड पॉलिसी लागू की है वह गलत है। जिसका सीधा असर विद्यार्थियों व चिकित्सकों ही नही आम जनता पर पड़ेगा। लोगों को मिलने वाले फ्री इलाज को भी सरकार बंद करके महंगे कर देगी। इसलिए वीरवार से ओपीडी सेवाएं बंद करने का निर्णय लिया है।

आरडीए प्रधान डॉ. अंकित गुलिया ने कहा कि सरकार को पहले ही अल्टीमेटम दिया गया था कि वह MBBS स्टूडेंट पर लागू की गई बाँड पॉलिसी को वापस ले। लेकिन अल्टीमेटम देने के एक सप्ताह बाद भी सरकार द्वारा कोई सकारात्मक कदम नहीं उठाए गए। इसलिए ओपीडी बंद करने का निर्णय लिया है।

रेजिडेंट डॉक्टर एसोसिएशन ने अनिश्चितकाल के लिए OPD सेवाएं बंद करने का निर्णय लिया है। उनका कहना है कि जब तक MBBS स्टूडेंट की मांग पूरी नहीं हो जाती, तब तक ओपीडी सेवाएं बंद रहेंगे। सरकार को चाहिए कि वह छात्रों की मांगों को पूरी करे।

MBBS स्टूडेंट का कहना है कि सरकार ने आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के छात्रों पर बोझ डाल दिया है, जिसका सीधा नुकसान विद्यार्थियों को हागा। नई बॉन्ड पॉलिसी के तहत विद्यार्थियों को 40 लाख रुपए देने होंगे। जो हर किसी विद्यार्थी के लिए संभव नहीं हैं। इससे मेरिट पाने वाले काफी विद्यार्थी डॉक्टर बनने का सपना पूरा नहीं कर पाएंगे।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulcha