भाजपा- जजपा गठबंधन में रार

187
SHARE

भिवानी।

हरियाणा में भाजपा-जजपा गठबंधन में तनातनी चल रही हैं। गठबंधन विवाद के चलते प्रदेश प्रभारी बिप्लब देव का तीसरे दिन भी निर्दलीय विधायकों के साा मुलाकात का सिलसिला जारी रहा। तीसरे दिन हरियाणा के बिजली मंत्री रणजीत सिंह चौटाला और विधानसभा अध्यक्ष ज्ञानचंद गुप्ता के साथ हरियाणा प्रभारी ने मुलाकात की।

बिप्लब देव ने कहा कि निर्दलीय विधायकों से उनकी बातचीत का दौर अच्छा रहा है। संगठन और सरकार के बारे में चर्चा हुई है। वहीं बिजली मंत्री रणजीत सिंह ने कहा कि बीजेपी प्रभारी के साथ ब्रेकफ़ास्ट पर चर्चा हुई है। 2024 के चुनावों और राजनीतिक विषय पर चर्चा हुई है।

बिजली मंत्री ने कहा कि सरकार के एसेसमेंट को लेकर भी बातचीत हुई है। बिप्लब देव अनुभवी नेता है उन्होंने अपना असेसमेंट दिया है और मैनें अपना असेसमेंट रखा है। मैंने अपना अनुभव उनके साथ सांझा किया है।

हरियाणा में 41 सीटों वाली भाजपा को जजपा के अतिरिक्त निर्दलीय, हलोपा विधायक का समर्थन् हासिल है। बहुमत के लिए सरकार के पास 46 विधायकों का समर्थन होना जरूरी है। हरियाणा में 7 निर्दलीय विधायक है। पंडूरी से रणधीर गोलन, महम से बलराम कुंडू, रानियां से रणजीत सिंह, बादशाहपुर से राकेश दौलताबाद, दादरी से सोमवीर सांगवान, नीलोखेडी से धर्मपाल गोंदर, नयनपाल रावत है। जबकि हलोपा के विधायक गोपाल कांडा है। भाजपा के पास 41, कांग्रेस के पास 30, जजपा 10, इनेलो 1, हलोपा 1 और 7 निर्दलीय विधायक है। निर्दलीय विधायकों में महम के बलराज कुंडू को छोड़कर बाकी सभी विधायक सरकार के साथ है। निर्दलीय विधायकों में से रणजीत सिंह को सरकार ने बिजली मंत्री बनाया हुआ है, जबकि कुछ विधायकों को चेयरमैनी दी है।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal