रक्षा मंत्रालय का किडनैप क्लर्क रेवाड़ी से बरामद

466
SHARE

हरियाणा के रेवाड़ी जिले से 5 दिन पहले किडनैप हुए रक्षा मंत्रालय के क्लर्क को सकुशल पुलिस ने औद्योगिक कस्बा धारूहेड़ा से बरामद कर लिया है। खास बात यह है कि किडनैपिंग के दौरान ही उसके खाते से 21 लाख रुपए की ट्रांजेक्शन हुई। हालांकि अभी यह साफ नहीं हो पाया कि नकदी उसके खाते में कहां से आई और किसके खाते में ट्रांसफर की गई?।

क्लर्क ने अपहरण करने वाले 3 लोग बताए हैं, लेकिन वह उन्हें पहचानता नहीं है। रामपुरा पुलिस के अलावा SIT मामले की छानबीन में जुटी है। पहली नजर में केस हनीट्रैप का लग रहा है। क्लर्क ने पुलिस को अपनी किडनैपिंग की पूरी कहानी बता दी है।

क्लर्क ने पुलिस को शुरूआती पूछताछ में बताया कि ड्यूटी पर जाने के लिए वह 30 सितंबर को बस में चढ़ा था, लेकिन रेवाड़ी शहर में दिल्ली रोड स्थित पुलिस लाइन के पास बस से उतर गया। यहां से एक लिंक रास्ते पर गया तो एक गाड़ी खड़ी मिली, जिसमें 3 लोग सवार थे। उन्होंने सुभाष से कुछ मिनट बात की और फिर उन्हें जबरन कार में डालकर किसी अज्ञात जगह पर ले गए। वहां उसे बंधक बनाकर रखा गया। क्लर्क ने बताया कि रविवार रात उसकी निगरानी के लिए 2 लोग छोड़े गए थे।

इस बीच एक शख्स लघुशंका के लिए चला गया तो दूसरा किसी और काम में लग गया। मौका पाकर वह पीछे से भाग निकला। रात का समय होने के कारण वह छिप गया। सुबह होते ही वह KMP के रास्ते पैदल ही पंचगांव होते हुए धारूहेड़ा पहुंच गया। यहां से उसे अलवर के गांव शीथल में रहने वाली अपनी बहन के घर जाना था। क्लर्क ने बताया कि अपहरण करने वाले शख्स उस पर पैसों के लिए लगातार दबाव डाल रहे थे, लेकिन वह अपहरण करने वाले लोगों को नहीं जानता।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal