खरक कला व खरक खुर्द, सिरसा घोघड़ा और निनाण के ग्रामीणों को नहीं भरना होगा टोल

170
SHARE
भिवानी :
जिला के गांव नौरंगाबाद में स्थित टोल प्लाजा की मनमानी के खिलाफ जारी टोल संघर्ष समिति के संघर्ष की आखिरकार जीत हुई। जिसके बाद अब गांव खरक कला, खरक खुर्द, सिरसा घोघड़ा व निनाण के ग्रामीणों को टोल से छूट मिलेगी तथा इन गांवों के ग्रामीण अपनी आईडी दिखाकर बिना टोल भरे जा सकते है।
बता दे कि गांव नौरंगाबाद में स्थित टोल प्लाजा द्वारा नाजाजय तरीके से टोल के 10 किलोमीटर के दायरे में आने वाले गांवों के ग्रामीणों से भी टोल वसूला जा रहा था, जिसके खिलाफ टोल संघर्ष समिति खरक पिछले काफी दिनों से संघर्षरत्त थी। संघर्ष को देखते हुए शुक्रवार को एसडीएम संदीप अग्रवाल की मध्यसस्ता में टोल संघर्ष समिति खरक, जिनमें खरक के सरपंच राजकुमार व नीटू, खरक खुर्द बीडीसी राजेश, सिरसा घोघड़ा सरपंच ईश्वर सिंह, निनाण सरपंच मांगेराम व संघर्ष समिति के अन्य सदस्य थे, नौरंगाबाद टोल मैनेजर सुमित सिवाच, सहायक अमित मोर, एनएचएआई का जेई, बीडीओ के बीच मीटिंग आयोजित हुई। मीटिंग में निर्णय लिया गया कि गांव खरक कला, खरक खुर्द, सिरसा घोघड़ा व निनाण के ग्रामीण आईडी कार्ड दिखाकर बिना टोल भरे जा सकते है। जिसके बाद संघर्ष समिति ने राहत की सांस ली। इसके बाद जिला के गांव खरक स्थित दादी जाबते मंदिर के प्रांगण में पंचायत आयोजित हुई, जिसमें ग्रामीणों को यह फैसला सुनाया गया।
इस मौके पर सीएम विंडो चेयरमैन कमल फौजी, अधिवक्ता कुलदीप शर्मा व अधिवक्ता कुलदीप सिंह परमार ने बताया कि ग्रामीणों के संघर्ष को देखते हुए आखिरकार टोल प्लाजा प्रशासन को झुकना पड़ा तथा ग्रामीणों की जायज मांगों को मानना पड़ा। उन्हेंने बताया कि समझौते के अनुसार अब उपरोक्त चार गांवों के ग्रामीण आईडी कार्ड दिखाकर नौरंगाबाद टोल से बिना टोल भरे निकल सकते है। उन्होंने कहा कि यदि ग्रामीणों को भविष्य में टोल से संबंधित कोई भी समस्या होगी तो उस बारे टोल संघर्ष समिति आगामी रणनीति तैयार करेगी। टोल संघर्ष समिति ने एसडीएम संदीप अग्रवाल का आभार जताया।
अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal