हरियाणा में पिछले दो दिनों में बिजली चोरी के 5508 मामले आए सामने:बिजली मंत्री

249
SHARE

 

चंडीगढ़। हरियाणा के बिजली मंत्री रंजीत सिंह ने कहा कि प्रदेश में बिजली चोरी रोकने के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि बीते 2 दिनों में बिजली चोरी के 5,508 मामले सामने आए हैं ।
श्री रणजीत सिंह ने आज यहां मीडियाकर्मियों से यह जानकारी सांझा करते हुए बताया कि सीएम फ्लाइंग स्क्वायड, दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम और उत्तर हरियाणा बिजली वितरण निगम के अधिकारियों के नेतृत्व में विजिलेंस और पुलिस कर्मियों की 507 टीमों का गठन करके छापेमारी की गई । छापेमारी के दौरान मुर्गी फार्म, उद्योग, मोबाइल टावर, वाटर आरओ, पानी और दूध शीतलक संयंत्र, ईंट भट्टे, कोल्ड स्टोर और सडक़ किनारे स्थित ढाबों सहित 27,307 परिसरों की जांच की गई जिनमें से बिजली चोरी के 5,508 मामले सामने आए हैं।
श्री रणजीत सिंह ने कहा कि छापेमारी के बाद बिजली चोरी करने वालों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर तुरंत प्रभाव से उनके बिजली कनेक्शन भी काटे गए । उन्होंने कहा कि अब तक 12.5 मेगावॉट से अधिक बिजली चोरी का खुलासा हो चुका है और डिफॉल्टरों पर लगभग 24 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया गया है।
बिजली मंत्री ने बताया कि बिजली चोरी के मामलों का खुलासा होने से प्रदेश के बिजली विभाग के राजस्व में करोड़ों रुपये कीे वृद्धि होगी जिससे बिजली कटौती में कमी आएगी और वाणिज्य और घरेलू क्षेत्र में बिजली की आपूर्ति बढ़ेगी। इसके साथ ही, उन्होंने कहा कि जिन स्थायी उपभोक्ताओं के बिजली कनेक्शन काटे गए हैं, वे जब अपना बकाया चुकाकर नए बिजली कनेक्शन लगवाएंगे तब इससे भी बिजली क्षेत्र में अधिक राजस्व आएगा।